Computer Programming in Hindi – Computer Program Kya Hai

हैलो दोस्तों ! Hindi Assistant में आपका स्वागत है. इस ब्लॉग में हम आपको विस्तार से Computer Program in Hindi, कंप्यूटर प्रोग्राम के दो मुख्य प्रकार, Computer Programming in Hindi, प्रोग्रामिंग के विभिन्न चरण, प्रोग्रामिंग के लाभ, आपको कंप्यूटर प्रोग्रामिंग क्यों सीखना चाहिए ? बताएँगे.

प्रोग्रामिंग क्या है जानने से पहले हम यह समझ लेते हैं कि Computer Program Kya Hai, तब हम Programming को अच्छी तरह से समझ पाएंगे.

आपकी सहुलियत के लिए इस लेख को निम्नलिखित भागों में बांट दिया है. आप टॉपिक अनुसार Program और Programming के बारे में समझ पाएंगे.

Computer Program in HindiComputer Program Kya Hai

Computer Programming in Hindi
Computer Program एक निर्देशों का एक सेट है जो कंप्यूटर को निर्देश देता है की Data को Process कैसे करना है. Program को Application या Software भी कहा जाता है. 

कंप्यूटर जो कुछ भी करता है वह एक Program का उपयोग करके करता है चाहे वह Mozilla Firefox हो या Chrome Browser के साथ वेब ब्राउज़ करना हो या फिर Microsoft Word का उपयोग करके किसी दस्तावेज़ को Process करना हो.

एक Computer Programming Language का उपयोग करके एक Program बनाया जाता है. जैसे हम मनुष्य कुछ भाषाओं (अंग्रेजी, हिंदी, आदि) को समझ सकते हैं, वैसे ही कंप्यूटर के मामले में भी है.

कंप्यूटर प्रोग्राम के दो मुख्य प्रकार – Two main types of computer programs in Hindi

आमतौर पर, Program या Software के दो मुख्य प्रकार होते हैं, System Software और Application Software.

System Software

System Software एक प्रकार का Computer Program है जिसे कंप्यूटर के Hardware और Application Program को चलाने के लिए डिज़ाइन किया गया है. इसके अलावा, यह Operating System (OS) को चलाने और कंप्यूटर Device को पूरी तरह से Manage करने के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार है.

यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो अन्य सॉफ्टवेयर को प्लेटफॉर्म प्रदान करता है. कुछ उदाहरण Operating System (जैसे Linux, Android and Microsoft Windows और MacOs), Antivirus Software, Search Engines,आदि.

सिस्टम सॉफ़्टवेयर पीछे में चलता है और अंतिम उपयोगकर्ताओं द्वारा उपयोग नहीं किया जाता है. इसका उद्देश्य अन्य Sources से प्राप्त Input का अनुवाद करना और उन्हें भाषा में परिवर्तित करना है ताकि मशीन समझ सके.

Features of System Software in Hindi – सिस्टम सॉफ्टवेयर की विशेषताएं

● सिस्टम सॉफ्टवेयर, सिस्टम के करीब होता है.

● निम्न-स्तरीय भाषा में लिखा गया है.

● आकार में छोटा होता है.

● सीधे हार्डवेयर से जोड़ता है जो कंप्यूटर को चलाने में सक्षम बनाता है.

● Speed काफी तेज होता है.

Application Software

Application Software कंप्यूटर प्रोग्राम है जो उपयोगकर्ता या User को विशेष कार्यों को करने में मदद करता है. इसका प्रोग्राम सिस्टम सॉफ्टवेयर की तुलना में अपेक्षाकृत आसान होता है.

यह सॉफ्टवेयर सिस्टम सॉफ्टवेयर पर निर्भर करता है और यह इसके बिना नहीं चल सकता लेकिन Application Software के बिना कंप्यूटर चल सकता है.

Application Software के कुछ उदाहरण आपको बता दूँ, जैसे Microsoft एक्सेल, वर्ड, पॉवरपॉइंट, आउटलुक, फोटोशॉप, इत्यादि.

Features of Application Software in Hindi – एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर की विशेषताएं

● अधिक Storage की आवश्यकता होती है क्योंकि यह आम तौर पर बड़ा होता है.

● आम तौर पर High Level Language में लिखा जाता है.

● डिजाइन करने में आसान होता है.

● उपयोगकर्ता (User) के लिए अधिक Interactive होता है.

मुझे उम्मीद है आपको Computer Programming Kya Hai समझ में आ गया होगा तो चलिए अब हम लोग प्रोग्रामिंग क्या है समझते हैं.

Computer Programming in HindiProgramming Kya Hai

Computer Programming एक कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा (Computer Programming Language) का उपयोग करके विभिन्न कार्यों को करने के लिए, कंप्यूटर को निर्देश (Instruction) देने की एक Method है. समझ लीजिये यह कंप्यूटर को निर्देश देने का एक तरीका है कि उस आगे क्या करना चाहिए. इन निर्देशों को Code के रूप में जाना जाता है.

जैसे हम किसी से बात करने के लिए कोई भाषा (जैसे अंग्रेजी, हिंदी इत्यादी) का इस्तेमाल करते हैं उसी तरह कंप्यूटर से बात करने के लिए कंप्यूटर की भाषा की उपयोग की जाती है.

Pogramming किसी स्थिति या समस्या के बारे में सोचने का तरीका है. इससे समस्या का समाधान खोजने में मदद मिलती है. Computer Programmer समस्याओं को हल करने या किसी कार्य को करने के लिए Code लिखते हैं.

प्रोग्रामिंग के विभिन्न चरण – Different Stages of Programming

1. General analysis – सॉफ्टवेयर विकसित किया जाने से पहले समस्या की समझ और पहचान करना होता है.आवश्यकताओं को देखा जाता है और सामान्य विश्लेषण होता है इस स्टेप में.

2. Program Design – समस्या का विश्लेषण करने के बाद डिजाइन होता है. समस्या के समाधान की योजना बनाने के दो सामान्य तरीके हैं एक Flowchart बनाना और Algorithm. सॉफ्टवेयर डेवलपर प्रोग्राम के डिजाइन को विकसित करने के लिए दोनों तरीकों का इस्तेमाल कर सकते है.

3.Coding – एक बार डिजाइन प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद अगला स्टेप प्रोग्राम को कोड करना है, इसका मतलब की प्रोग्रामिंग भाषा में समाधान व्यक्त करना और आप कह सकते है की निर्देशों (Instructions) को कंप्यूटर भाषा में लिखते है.

4. Testing and Debugging – इस स्टेप में प्रोग्राम में त्रुटियों या Fault का पता लगाया जाता है और अगर कोई दिक्कत या Error मिलता है तो उन्हें ठीक किया जाता है.

5. Documentation – यह किसी एप्लिकेशन के सभी पहलुओं पर नज़र रखने में मदद करता है और भविष्य में सॉफ्टवेयर में कोई बदलाव करना हो तो उसमें भी मदद करता है और इसके कारण जो भी बदलाव करने हो वो जल्दी हो जाता है.

6. Maintenance – जब ऊपर के सभी स्टेप सफलतापूर्वक Pass हो गया हो और मार्केट में सॉफ्टवेयर लांच हो गया हो तब यह चरण आता है वैसे आपको नाम से ही समझ में आ रहा होगा कि इस स्टेप में सॉफ्टवेयर को Maintain करते हैं, या आसान भाषा कहे तो सॉफ्टवेयर को देखभाल करते है.

प्रोग्रामिंग के लाभ – Benefits of Programming in Hindi

● रोजगार के अवसर देता है.

● रचनात्मक सोच (Creative Thinking) को अच्छा करता है.

● समस्या सुलझाने (Problem Solving) कौशल को अच्छा करता है.

● अगर आपको प्रोग्रामिंग आती है तो आप वेबसाइट,गेम, इत्यादि भी बना सकते है.

● यह आपकी सोचने की सकती को बढ़ता है.

● आप दूर या घर से बैठ के नौकरी कर सकते है.

आपको कंप्यूटर प्रोग्रामिंग क्यों सीखना चाहिए ?

● आप अधिक कुशल और उत्पादक बन जाते हैं.

● समस्या को सुलझाने और आपके सोचने के कौशल में सुधार करता है.

● प्रोग्रामिंग सीखने के बाद आपके लिए बहुत सारे नौकरियों का अवसर खुल जाते है.

● आप आसानी से मनचाहा सॉफ्टवेयर या वेबसाइट बना सकते हैं.

● आकर्षक और अच्छी सैलरी है इस Field में.

Conclusion

मैं आशा करता हूं कि आपको Computer Programming in Hindi, Computer Program Kya Hai अच्छे से समझ में आ गया होगा इसके साथ साथ हमने इससे जुड़े और भी सवालों को अच्छे से समझा.

आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो आप अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें.

अगर आपको इस आर्टिकल में कुछ सवाल हो तो आप निचे Comment Box में Comment करके बेझिझक पूछ सकते हैं.

2 thoughts on “Computer Programming in Hindi – Computer Program Kya Hai”

    • haan programming language sikh kar bana jaa sakta hai lekin programming language ke alawa aapko koi app ya website banana chahiye aur saath me Data Structure aur Algorithm padhna hoga tab jaakar aap ek achha software developer ban sakte hai.

      Reply

Leave a Comment